लीड इंडिया ग्रुप से सम्बन्धित आम सवाल

  1. लीड इंडिया ग्रुप क्या है?

यह एक मीडिया हाउस है।

  1. क्या ‘लीड इंडिया ग्रुप’ का टाइम्स ऑफ इंडिया या टाइम्स ग्रुप से किसी प्रकार का संबंध है?

नहीं, ‘लीड इंडिया ग्रुप’ का टाइम्स ऑफ इंडिया अथवा टाइम्स ग्रुप से किसी प्रकार का कोई संबंध नहीं है।

  1. ‘लीड इंडिया ग्रुप’ प्रिंट मीडिया है या इलैक्ट्रॉनिक मीडिया?

‘लीड इंडिया ग्रुप’ प्रिंट मीडिया और वेब मीडिया है। ‘लीड इंडिया ग्रुप’ के पाक्षिक प्रकाशन इनसाइड स्टोरी की इनवेस्टीगेटेड स्टोरीज़ को इलैक्ट्रॉनिक मीडिया पर भी चलाया जाता है।

  1. ‘लीड इंडिया ग्रुप’ के प्रकाशन कौन-कौन से हैं?

‘लीड इंडिया ग्रुप’ के निम्नलिखित समाचार पत्र हैं:

  1. ‘लीड इंडिया‘ हिन्दी दैनिक समाचारपत्र
  2. ‘लीड इंडिया‘ अंग्रेजी दैनिक समाचारपत्र
  3. ‘लीड इंडिया‘ हिन्दी साप्ताहिक समाचारपत्र
  4. ‘इनसाइड स्टोरी‘ हिन्दी पाक्षिक समाचारपत्र
  5. ‘इनसाइड स्टोरी‘ अंग्रेजी पाक्षिक समाचारपत्र
  6. ‘सेंसेक्स टाइम‘ हिन्दी पाक्षिक पत्रिका
  7. ‘सेंसेक्स टाइम‘ अंग्रेजी पाक्षिक पत्रिका

     5. ‘लीड इंडिया ग्रुप’ के समाचारपत्र किस शहर से प्रकाशित होते हैं?

नई दिल्ली से।

  1. ‘लीड इंडिया ग्रुप’के समाचारपत्र प्रायः बाजार में क्यों नहीं दिखते?

‘लीड इंडिया ग्रुप’ के अखबारों के निश्चित ग्राहक हैं जिनके पास अखबार सीधे डाक द्वारा पहुंचता है। यही वजह की बाजार में बिक्री के लिए स्टॉल्स पर ‘लीड इंडिया ग्रुप’ के अखबारों की उपलब्धता कम होती है।

  1. प्रिंट मीडिया होते हुए भी लीड इंडिया इलैक्ट्रॉनिक मीडिया के अंदाज में माइक व रिकॉर्डर के साथ कवरेज क्यों करता है?

आज तकनीक का जमाना है, ऐसे में प्रिंट मीडिया को भी उच्च तकनीकों से लैस होना चाहिए। ‘लीड इंडिया ग्रुप’ ने प्रिंट मीडिया के लिये पहले से स्थापित परंपरा के उलट तकनीक के माध्यम से खबर को कवर करने की परंपरा स्थापित की है। पत्रकारिता में समय और साक्ष्यों का बहुत महत्व होता है। यही वजह है ‘लीड इंडिया ग्रुप’ माइक व रिकॉर्डर के साथ कवरेज करता है। रिकॉर्डर से समय की बचत तो होती ही है साथ ही रिकॉर्ड तथ्यों से छेड़छाड़ भी नहीं हो पाती।

  1. ‘लीड इंडिया ग्रुप’ के प्रकाशनों का प्रसार कहां – कहां होता है?

‘लीड इंडिया’ हिन्दी दैनिक समाचारपत्र का प्रसार दिल्ली & एनसीआर में होता है।

‘लीड इंडिया’ अंग्रेजी दैनिक समाचारपत्र का प्रसार दिल्ली & एनसीआर में होता है।

‘सेंसेक्स टाइम’ हिन्दी पाक्षिक पत्रिका का प्रसार दिल्ली, उप्र, मध्य प्रदेश, झारखंड, पंजाब, बिहार, राजस्थान और हरियाणा में होता है।

‘सेंसेक्स टाइम’ अंग्रेजी पाक्षिक पत्रिका का प्रसार भारत के सभी हिस्सों मे होता है।

‘इनसाइड स्टोरी’ हिन्दी पाक्षिक समाचारपत्रका प्रसार दिल्ली, उप्र, मध्य प्रदेश, झारखंड, पंजाब, बिहार, राजस्थान, हरियाणा में होता है।

‘इनसाइड स्टोरी’ अंग्रेजी पाक्षिक समाचारपत्र का प्रसार भारत के सभी हिस्सों मे होता है।

  1. ‘लीड इंडिया ग्रुप’ का हेड ऑफिस कहां है?

‘लीड इंडिया ग्रुप’ का हेड ऑफिस दिल्ली में है।

  1. लीड इंडिया वेब मीडिया भी है, इसमें में कितनी वेबसाइट हैं?

‘लीड इंडिया ग्रुप’ में 5 ऑफिशियल वेबसाइट हैं जो इस प्रकार हैं-

  1. www.leadindiagroup.com (Official Website)
  2. www.leadindianews.com (English News Portal)
  3. www.leadindiakhabar.com (Hindi News Portal)
  4. www.insidestorymedia.com (Media Encyclopedia)
  5. www.lipa.co.in (Publisher Community Portal)
  6. www.leadindiajobs.com (Jobs Portal)
  7. www.leadindiatech (Technical Support Website)
  8. www.bestpromotionplan.com (Ad. Booking Website)
  9. www.liimt.com (Media Training Portal)
  1. ‘लीड इंडिया ग्रुप’ का इलैक्ट्रॉनिक मीडिया से कोई संबंध है?

हां, ‘लीड इंडिया ग्रुप’ के प्रकाशन ‘इनसाइड स्टोरी’ द्वारा की गई इनवेस्टीगेटेड स्टोरीज़ इलैक्ट्रॉनिक मीडिया में प्रसारित होती हैं।

  1. ‘लीड इंडिया ग्रुप’ के संस्थापक कौन हैं?

‘लीड इंडिया ग्रुप’ के संस्थापक एवं चेयरमैन श्री सुभाष सिंह हैं।

  1. क्या ‘लीड इंडिया ग्रुप’ में किसी की हिस्सेदारी भी है?

नहीं, ‘लीड इंडिया ग्रुप’ में किसी प्रकार की हिस्सेदारी नहीं है। इसका संचालन मुख्यरूप से श्री सुभाष सिंह द्वारा ही किया जाता है।

  1. ‘लीड इंडिया ग्रुप’ कब से चल रहा है?

अप्रैल 2007 से।

  1. आपने अपने ग्रुप का नाम ’लीड इंडिया ग्रुप’ क्यों रखा?

यह नाम भारत के पूर्व राष्ट्रपति स्वर्गीय एपीजे कलाम ने रखा था। साथ ही ’लीड इंडिया’ के नाम से दो दैनिक एवं एक साप्ताहिक अखबार हिन्दी और अंग्रेजी में प्रकाशित होता है, इसिलिए ग्रुप का नाम ‘लीड इंडिया ग्रुप’ रखा गया है।

  1. ‘लीड इंडिया ग्रुप’ ने ’लीड इंडिया पब्लिशर्स एसोसिएशन’ की स्थापना क्यों की?

‘लीड इंडिया ग्रुप’ प्रकाशकों के सामने आने वाले रोजमर्रा की चुनौतियों पर लंबे समय से अध्यन कर रहा था। ‘लीड इंडिया ग्रुप’ ने समस्या को व्यापक संदर्भ में देखा और ’लीड इंडिया पब्लिशर्स एसोसिएशन’ (लीपा) का गठन किया। यह शुद्ध रूप से प्रकाशकों के लिए समर्पित संस्था है।

  1. ‘लीड इंडिया ग्रुप’ अखबारों का क्या उद्देश्य है।

‘लीड इंडिया ग्रुप’ के सभी अखबारों की स्थापना विषेश उद्देश्य के साथ की गई है। असल मे पत्रकारिता का मकसद सिर्फ आलोचनात्मक होने के बजाय उदेश्यपूर्ण होना बेहद जरुरी है। भारत आज तेजी से विकसित राष्ट्र बनने की कतार में खड़ा है। रोज सामाजिक, वैज्ञानिक और तकनीकी दुनिया में कुछ ना कुछ नया घटित हो रहा है। देश में मीडिया इन खबरों पर ध्यान भी देता है, परंतु फिर कहीं ना कहीं ऐसे समाचार पत्र की कमी नजर आती है जो भारत के सकारात्मक पक्ष और विकास की बात प्रमुखता से करता हो। ऐसे में लीड इंडिया (दैनिक) के जरिए हमारी कोशिश है कि हम ऐसी घटनाओं और व्यक्तियों की खबरें प्रमुखता से उठायें जो अन्य लोगों के प्रेरणादायी हो।

लीड इंडिया साप्ताहिक

साथ ही ग्लोबल होते समय में लोगो को उनकी खबरें नहीं मिल रहीं हैं ऐसे में लीड इंडिया वीकली एक क्षेत्र विषेश के लिये प्रकाशित होगा एक क्षेत्र की हर खबर उस क्षेत्र के निवासियों को देगा तथा कठनाई में उनकी आवाज बनेगा।

इनसाइड स्टोरी

इनसाइड स्टोरी इंवेस्टीगेटेड स्टोरी पर आधारित समाचार पत्र है। सत्यों के अन्वेषण के बाद खबर को पाठकों तक पहुंचाने के लिए इनसाइड स्टोरी हिन्दी पाक्षिक समाचार पत्र का जन्म हुआ था। इसका उद्देश्य पाठकों और समाज को ऐसे ही सत्यों से रूबरू कराना है जो हमारे मुख्य समाज के साथ नदी के दूसरे किनारे की तरह चल रहे हैं।

सेंसेक्स टाइम

आज अलग-अलग क्षेत्रों की खबरों के लिए स्पेश्लाइज पत्रकार और समाचार पत्र होते हैं जो अपने पाठकों को उनकी रूचि अनुसार पाठ्य सामग्री उपलब्ध कराने का कार्य करते हैं। अर्थ जगत पत्रकारिता की नई शैली में ऐसा ही एक पहलू है जिसे नकार कर आगे नहीं बढ़ा जा सकता। इसी उद्देश्य को ध्यान मे रखकर सेंसेक्स टाइम हिन्दी पाक्षिक पत्रिका का प्रकाशन किया गया। सेंसेक्स टाइम का उद्देश्य पाठकों को अर्थ जगत मे घटित हो रहे परिवर्तनों एवं इस क्षेत्र मे लागू नियम व नीतियों से अवगत कराना है।

इन तीनों अखबारों का प्रकाशन अंग्रेजी भाषा में भी किया गया ताकि इनका प्रसार गैर हिन्दी भाषी राज्यों में भी किया जा सके।

  1. ‘लीड इंडिया ग्रुप’के प्रकाशनों के लिए समाचार कहां से आते हैं?

रिपोर्टस और ऐजेंसियों के माध्यम द्वारा।

  1. मैं ‘लीड इंडिया ग्रुप’ में विज्ञापन किस प्रकार दे सकता हूं?

आप हमारे मार्केटिंग एक्जिक्यूटिव से निम्नलिखित नम्बरों पर संपर्क कर सकते हैं: 011 – 22526645 / 46 और 011-22044470.

  1. मैं ‘लीड इंडिया ग्रुप’ से कैसे जुड़ सकता हूं?

‘लीड इंडिया ग्रुप’ से जुड़ने के लिए आप www.leadindiagroup.com पर career सेक्शन में क्लिक करें तथा वहां दिए गए विकल्पों में से एक चुन कर संबंधित फॉर्म भरें। इस प्रक्रिया के बाद आपको यथाशीघ्र ‘लीड इंडिया ग्रुप’ से जुड़ने के संदर्भ में सूचित किया जाएगा।

  1. क्या मीडिया स्टूडेंट्स के लिए ‘लीड इंडिया ग्रुप’ कोई ट्रेनिंग प्रोग्राम चलाता है?

‘लीड इंडिया ग्रुप’ ने मीडिया स्टूडेन्ट्स को विषेश सुविधा देने के लिए ‘लीड इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मीडिया ट्रेनिंग’ (लिम्ट) की स्थापना की है। ताकि यहां मीडिया स्टूडेन्ट्स को मीडिया की प्रोफेशनल ट्रेनिंग प्रैक्टिकल तरीके से दी जा सके।

  1. ‘लीड इंडिया ग्रुप’ किन्हें प्रेस आईकार्ड जारी करता है?

‘लीड इंडिया ग्रुप’ मीडिया से संबंधित कार्य करने वाले अपने स्टाफ के लिए प्रेस आईकार्ड जारी करता है, तथा उनकी जानकारी www.leadindiagroup.com पर About Us सेक्शन में अपलोड की जाती है। इस लिस्ट में जिनका नाम होता है उन्हें ही आधिकारिक रूप से ‘लीड इंडिया ग्रुप’ द्वारा प्रेस आईकार्ड जारी किया गया होता है। यदि कोई व्यक्ति जिसका नाम इस लिस्ट में नहीं है और वह ‘लीड इंडिया ग्रुप’ के किसी भी प्रकाशन का प्रेस आईकार्ड दिखाता है तो वह अवैध होगा अर्थात उसे ‘लीड इंडिया ग्रुप’ ने जारी नहीं किया है।

 Read it In English